अगर आपको कोई बीमारी नहीं है तो भी आपको ब्लड टेस्ट करवाना चाहिए, जानिए कारण – News India Live

जब कोई व्यक्ति बीमार पड़ता है, तो डॉक्टर अक्सर उनकी स्वास्थ्य स्थिति के बारे में जानकारी प्राप्त करने और उनकी बीमारी के अंतर्निहित कारणों की पहचान करने के लिए रक्त परीक्षण की सलाह देते हैं। यह नैदानिक ​​दृष्टिकोण डॉक्टरों को शरीर के भीतर कमियों और मुद्दों को इंगित करने की अनुमति देता है, जिससे संभावित गंभीर स्वास्थ्य चिंताओं को नज़रअंदाज़ होने से रोका जा सकता है।

समय पर परीक्षण का महत्व:

अक्सर लोग पेट दर्द जैसे लक्षणों को गैस जैसी सामान्य समस्या समझकर नजरअंदाज कर देते हैं। हालाँकि, जब स्थिति खराब हो जाती है, तो डॉक्टरी सलाह लेना ज़रूरी हो जाता है। ऐसे मामलों में, डॉक्टर समस्या के वास्तविक कारण को उजागर करने के लिए विभिन्न चिकित्सा परीक्षणों की सलाह देते हैं। छोटी समस्याओं को अधिक गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं में बदलने से रोकने के लिए समय पर परीक्षण पर जोर दिया जा रहा है।

 

स्वस्थ व्यक्तियों के लिए निवारक परीक्षण:

शारीरिक रूप से स्वस्थ व्यक्तियों के बीच एक सामान्य प्रश्न उठता है – यदि उन्हें कोई स्पष्ट स्वास्थ्य समस्या नहीं है तो क्या उनके लिए चिकित्सा उपचार या रक्त परीक्षण कराना आवश्यक है?

जैसा

विशेषज्ञों के मुताबिक जागरूकता बढ़ाना बेहतर स्वास्थ्य की दिशा में पहला कदम है। नियमित परीक्षण उन लोगों के लिए आवश्यक हो जाता है जिनके परिवार में मधुमेह जैसी स्थितियों का इतिहास है, विशेष रूप से 40-45 आयु वर्ग के व्यक्तियों के लिए जो थोड़ा अधिक वजन वाले और तनावग्रस्त हो सकते हैं। देर से निदान को रोकने के लिए रक्त शर्करा के स्तर, एचबीए1सी और कोलेस्ट्रॉल की निगरानी करना महत्वपूर्ण है जो किसी के स्वास्थ्य को काफी नुकसान पहुंचा सकता है।

#अगर #आपक #कई #बमर #नह #ह #त #भ #आपक #बलड #टसट #करवन #चहए #जनए #करण #Live

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top