भ्रष्‍टाचार मामले में DGCA के डायरेक्‍टर अनिल गिल को किया सस्‍पेंड, जानें पूरा मामला

नई दिल्‍ली. नागर विमान महानिदेशालय (DGCA) में डायरेक्टोरेट ऑफ एयरोस्पेस कैप्टन अनिल गिल को आखिरकार सस्‍पेंड कर दिया गया. यह कार्रवाई बुधवार को हुई. अनिल गिल भ्रष्टाचार के मामले में आरोपी हैं. केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ किसी भी मामले में हमारी सरकार की जीरो टॉलरेंस की नीति है.

मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा, ‘ऐसे किसी भी मामले में कानून के तहत सख्त कार्रवाई की जाएगी.’ दरअसल, सरकार ने ऐसे समय ये कार्रवाई की जब हाल ही में डीजीसीए ने रिश्वत लेने के मामले को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को ट्रांसफर करने की मांग की थी. सूत्रों ने बताया कि इस मामले की संबंध में कुछ दिन पहले मंत्रालय और डीजीसीए को एक गुमनाम ईमेल मिला था जिसमें गिल के खिलाफ आरोप लगाए गए थे, जिन्हें हाल ही में एयरोस्पोर्ट्स विभाग में फिर से नियुक्त किया गया था.

ई मेल आने के बाद मचा हड़कंप, फौरन हुई कार्रवाई
सूत्रों ने बताया कि ईमेल में जो जानकारी दी गई थी; उससे डिपार्टमेंट में हड़कंप मच गया. इसमें बताया गया था कि डायरेक्‍टर अनिल गिल अपने अधिकारों का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं और यहां तक कि जो उनके अधिकार क्षेत्र में नहीं है; उसमें गलत तरीकों के जरिए दखल दे रहे हैं. इस शिकायत में अनिल गिल के तमाम कारनामों की जानकारी दी गई थी. बताया गया था कि आखिर किस तरह रिश्‍वत ली जा रही है और संस्‍थाओं को धमकाया गया था.

Tags: Aviation News, Civil Aviation Department, Corruption case, DGCA, Ministry of civil aviation


#भरषटचर #ममल #म #DGCA #क #डयरकटर #अनल #गल #क #कय #ससपड #जन #पर #ममल

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top